Ghatna DurghatnaUP

ट्रेन हादसे में Ghayal अधेड़ की मौत शव पहुंचते ही परिवार में मचा कोहराम

यशपाल सिंह
आजमगढ़-आजमगढ़ : झारखंड के पटना-हाबड़ा मेन रेलवे लाइन के किऊल रेलवे जंकन के पास शनिवार की अल सुबह अप हटिया-गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस ट्रेन में हुए हादसे में शहर के मातबरगंज मोहल्ला निवासी 48 वर्षीय मंगल सेठ पुत्र स्व. मुन्नीलाल सेठ की मौत हो गई थी। हादसे में बाद रविवार की सुबह तीन बजे के बाद उनका शव गांव पहुंचा। शव पहुंचते ही कोहराम मच गया और परिजन रात में ही शव का दाह संस्कार कर दिए।
मंगल सेठ पत्नी व दो बच्चियों के साथ बीते 11 अप्रैल को बाबा धाम के लिए रवाना हुआ था। झारखंड क्षेत्र में मौर्य एक्सप्रेस से वह लोग यात्रा कर थे कि शनिवार की सुबह साढ़े तीन बजे के करीब मौर्य एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस दौरान तेज गति से कोई टुकड़ा बोगी में होल करते हुए मंगल सेठ के सीने पर आ गिरा। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई थी। घटना के बाद से उसके घर पर कोहराम मचा था। शनिवार को सुबह से ही उसके घर पर नात-रिश्तेदार जुटना शुरू हो गए थे। परिवार के लोग उसके शव का इंतजार कर रहे थे। शव आते ही घर पर कोहराम मच गया। नात रिश्तेदारों की मौजूदगी में राजघाट पर उसके शव का दाह संस्कार किया गया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close