NationalReligionUP

बाबरी मस्जिद का निर्माण उसी स्थान पर कराने के लिए इमाम कोंसिल ने सात सूत्रीय ज्ञापन दिया।

अज़ीम कुरैशी
नूरपुर (बिजनौर). अाल इंडिया इमाम कोंसिल के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने 6 दिसंबर को काला दिवस के रुप मे मनाते हुए बाबरी मस्जिद को उसी स्थान पर पुनर्निर्माण की मांग करते हुए सात बिन्दुओं पर अाधारित एक ज्ञापन कार्यवाहक थानाय्क्ष  सहंसरवीर सिंह को सोंपा।बुद्धवार सुबह ग्यारह बजे इमाम कोंसिल की नूरपुर शाखा ने बाबरी मस्जिद की शहादत की 25 वी बरसी पर मदरसा मेराजुल उलूम सय्यदो वाली मस्जिद मे कार्यक्रमखा अायोजन किया गया।कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए इमाम कोंसिल की नूरपुर शाखा के अध्यक्ष हकीम मोहम्मद सालिम ने कहा कि छ:दिसंबर का हिन्दुस्तान की तारीख मे काला दिन हेै।छ:1092 को भगवा  कारसेवको ने देश की 500 वर्ष पुरानी बाबरी मस्जिद को शहीद कर दिया था।बाबरी मस्जिद पर हमला मुल्क की जमहूरियत सेकुलरिज्म पर हमला था।जिसके कारण पूरे मुल्क मे अफरा तफरी ओर दंगे फसाद फेल गये थे।उन्होंने कहा कि 25 साल बाद भी बाबरी मस्जिद की शहादत के कातिल अाज भी मुल्क मे बेखोफ होकर घूम रहे हेै।कानूनणे कोई सजा नहीं दी।जब तक हमे हक व  इंसाफ नहीं मिलेगा तब तक हर साल छ: दिसंबर को काला दिवस के रुप मे मनाते रहेंगे।अाल इंडिया इमाम कोंसिल के सरपरस्त मुफ्ती गुफरान ने कहा कि बाबरी मस्जिद की शहादत सिर्फ मुसलमानों का मसला नहीं हेै।यह देश की एकता अखंडता ओर संविधान रक्षा का मसला हेै।उन्होंने कहा कि वह पिछले पच्चीस वर्षों से इंसाफ के मुंतज़िर हेै।ओर अाशा करते हे कि हमे देश की सर्वोच्च अदालत से इंसाफ जरूर मिलेगा।मोलाना वहाजुददीन अाज़मी के नेतृत्व मे सेकडो मुसलमान थाने पहुँचे जहां उन्होंने सात सूत्रिय मांग पत्र कार्यवाहक थानाध्यक्ष सहंसरवीर को सोंपा।ज्ञापन सोपने वालो मे मोलाना मोहम्मद फुरकान,मुफ्ती गुफरान आदि शामिल थे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close