UP

तहसील दिवस में छाया रहा राशन में भ्रष्टाचार का मुद्दा

संजय ठाकुर.
मऊ : जिलाधिकारी ऋषिरेन्द्र कुमार की अध्यक्षता में मधुबन ब्लाक मुख्यालय के सभागार में मंगलवार को तहसील दिवस का आयोजन सम्पन्न हुआ। विभिन्न मामलों से सम्बंधित फरियादियों ने 83 प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया। इसमें एक का भी निस्तारण नहीं हो सका। फरियादियों द्वारा प्रस्तुत किए गए प्रार्थना पत्रों के निस्तारण के लिए सम्बंधित विभागीय अधिकारियों को समस्याओं का अतिशीघ्र निस्तारण करने का सख्त निर्देश दिया। इसमें उचित दर विक्रेता (कोटेदार) द्वारा राशन व तेल वितरण में धांधली को लेकर दुबारी ग्राम पंचायत के खैरा देवार, हरिलाल का पुरा व पब्बर के पुरवा के सैकड़ो लोगों ने कोटेदार रमावती देवी की निलंबित दुकान को बर्खास्त करने की मांग करते जमकर प्रदर्शन किया। बाढ़ पीड़ितों में निःशुल्क वितरित करने के लिए मिले 13 सौ लीटर केरोसिन के तेल में धांधली व कोटेदार पुत्रों द्वारा पात्र गृहस्थी के उपभोक्ताओं को भिखारी कहने की शिकायत की गई। वहीं मिट्टी के तेल के गैलन को फेंकने का मामला जोर शोर से छाया रहा। तहसील के अधिवक्ता कैलाश राय ने दरगाह-सिकड़ीकोल के मार्ग में बनी पुलिया बालू खनन माफियाओं द्वारा भारी बालू लोडेड वाहन के चलते टूट जाने की शिकायत करते टूटी पुलिया बनवाने की मांग की। टमठा निवासी ओमप्रकाश तिवारी ने प्रधानमंत्री आवास की मांग किया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक, सीओ, थाना प्रभारी सुशील कुमार शुक्ल समेत कई विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close